HimachalPoliticsShimla

करारी हार के बाद कांग्रेस में घमासान, निशाने पर वीरभद्र सिंह

लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद हिमाचल कांग्रेस में घमासान मच गया है। नतीजे आने के एक दिन बाद ही मौजूदा विधायक और पार्टी पदाधिकारी ही पूर्व सीएम वीरभद्र के खिलाफ खुलकर सामने आ गए।इसी बीच, हार की जिम्मेदारी लेते हुए नाहन से पूर्व विधायक अजय बहादुर ने पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने कहा कि संगठन को चलाने के लिए अब युवाओं को मौका मिलना चाहिए।

ऊना सदर से कांग्रेस विधायक सतपाल सिंह रायजादा ने कहा है कि वीरभद्र ने चुनाव से तीन माह पहले सुखविंद्र सुक्खू को पार्टी प्रदेशाध्यक्ष के पद से हटवाया। इसके कारण सूबे में कांग्रेस को इतने बड़े अंतर से हार झेलनी पड़ी।

वीरभद्र की जिद्द के आगे संगठन में बदलाव के बाद भी वह सुक्खू की सार्वजनिक आलोचना करते रहे। इससे कार्यकर्ताओं में गलत संदेश गया। सुक्खू को हटाना ही था तो चुनाव से एक वर्ष पहले या बाद में हटाते।

पूर्व सीपीएस नीरज बोले, गांधी परिवार की अंध भक्ति छोडे़ं 

विधायक ने कहा कि भाजपा का हरेक कार्यकर्ता जीत के लिए काम कर रहा था, लेकिन कांग्रेस के शीर्ष नेता अपनों के ही टिकट काटने में लगे थे। इसी बीच, पार्टी के महासचिव सुनील बिट्टू ने कहा है कि वीरभद्र की ओर से सुक्खू के खिलाफ बार-बार बयानबाजी करना गलत है।

वह वीरभद्र का आदर करते हैं, लेकिन तर्कहीन बयानबाजी पार्टी को नुकसान पहुंचा रही है। उन्होंने आग्रह किया कि वह गिले-शिकवे बंद कमरे में सुलझाएं। उधर, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने कहा है कि इस मामले में अभी मैं कोई कमेंट नहीं करूंगा।

पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ सोशल मीडिया पर टिप्पणियां करने वाले पूर्व सीपीएस व कांग्रेस नेता नीरज भारती ने लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

फेसबुक पर पोस्ट डालकर पूर्व सांसद चंद्रकुमार के पुत्र नीरज भारती ने लिखा कि पार्टी कार्यकर्ता गांधी परिवार की अंध भक्ति छोड़ कांग्रेस को मजबूत करें। भाजपा को जीत पर बधाई देते लिखा है कि कांग्रेस मेरे खून में है और हमेशा रहेगी।

लेकिन अब कभी भाजपा के खिलाफ सोशल मीडिया में पोस्ट नहीं डालूंगा। भारती ने पूर्व मंत्री सुधीर शर्मा पर भी निशाना साधा। बोले, सुधीर अगर धर्मशाला से उपचुनाव लड़े तो उनका विरोध करूंगा। भारती ने कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता भी छोड़ने की बात लिखी है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close