BusinessTech

Online मिलेगी ये सुविधा, नही लगाने होंगे नगर निगम के चक्कर

Online मिलेगी ये सुविधा, नही लगाने होंगे नगर निगम के चक्कर: स्मार्ट सिटी धर्मशाला के बाशिंदों को अब जन्म-मृत्यु व विवाह पंजीकरण प्रमाणपत्र और भवनों के नक्शों को पास करवाने के लिए नगर निगम कार्यालय के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। अब यह सुविधा ऑनलाइन मिलेगी। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने सोमवार को धर्मशाला में ग्लोबल इंफॉर्मेशन सिस्टम (जीआइएस वेबपोर्टल), ई-नगरपालिका एवं बीकन परियोजना का शुभारंभ किया।

इसके अलावा उन्होंने कोतवाली बाजार स्थित सामुदायिक भवन में धर्मशाला स्मार्ट सिटी लिमिटेड की वेबसाइट भी लांच की। साथ ही स्मार्ट सिटी की 145.43 करोड़ की परियोजनाओं के शुभारंभ के साथ नींव पत्थर भी रखे। मुख्यमंत्री ने कोतवाली बाजार स्थित गांधी पार्क में स्मार्ट रोड, स्मार्ट बाधामुक्त बस शेल्टर, पार्क और खेल मैदान का भी शिलान्यास किया। 

साथ ही शामनगर में सीवरेज के रूट जोन ट्रीटेंट और पेयजल से जुड़ी परियोजना का नींव पत्थर भी रखा। इसके अलावा राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला छात्रा धर्मशाला में स्मार्ट क्लास रूम के तहत सैंपल रूम का भी शिलान्यास किया। चरान खड्ड में एकीकृत कमांड व नियंत्रण केंद्र का भी नींव पत्थर रखा।

स्मार्ट सिटी की 84.08 करोड़ की स्मार्ट रोड परियोजना के तहत शहीद स्मारक से बस स्टैंड धर्मशाला के अलावा अन्य सड़कों को स्मार्ट बनाया जाएगा। इसके अलावा स्मार्ट सिटी के तहत 91 स्थानों पर बाधामुक्त बस शेल्टर बनेंगे और इन पर 9.37 करोड़ रुपये खर्च होंगे। बाधामुक्त बस शेल्टर से यातायात सुचारू होगा और यात्रियों के लिए बसों की समयसारिणी भी मौजूद रहेगी। ऑटोमेटिक पेयजल योजना के तहत शहर से छूटे क्षेत्रों के लोगों को पेयजल मुहैया होगा और इस परियोजना पर 5.49 करोड़ की धनराशि खर्च होगी।

योजना के तहत रोजाना 2.2 मिलियन लीटर पानी की आपूर्ति शहरवासियों को मिलेगी। सीवरेज के रूट जोन ट्रीटमेंट पर 3.51 करोड़ खर्च होंगे। इसकी विशेषता यह होगी कि यह ऑटोमेटिक चलेगा और बिजली का प्रयोग नहीं किया जाएगा। स्मार्ट क्लास रूम योजना के तहत 3.55 करोड़ की धनराशि से 10 सरकारी स्कूलों में 65 क्लास रूम बनेंगे और इनमें डिजिटल पाठ्यक्रम सामग्री, इंटरेक्टिव स्मार्ट बोर्ड, प्रोजेक्टर, आइपी कैमरा, इंटरनेट, क्लास रूम फर्नीचर तथा वाटर एटीएम की सुविधा मिलेगी।

मेयर समेत कांग्रेस पार्षदों ने किया कार्यक्रम से किनारा धर्मशाला में सोमवार को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के कार्यक्रम से नगर निगम धर्मशाला के महापौर देवेंद्र जग्गी समेत अधिकांश कांग्रेस पार्षद नदारद रहे। कार्यक्रम में केवल वार्ड पांच खजांची मोहल्ला की पार्षद विमला देवी ने ही भाग लिया।

क्या है जीआइएस वेब पोर्टल:जीआइएस वेब पोर्टल में हर विभाग की जानकारी शहर के बाशिंदे ले पाएंगे। इसके लिए संबंधित विभाग के चुनिंदा अधिकारियों को यूजर बनाया जाएगा। पोर्टल की विशेषता यह है कि इसमें भारत सरकार के कार्यालयों की जानकारी अलग लेयर में रहेगी, जबकि प्रदेश सरकार के विभागों की जानकारी अलग से होगी।

क्या है ई-नगरपालिका:इसके तहत भविष्य में जन्म, मृत्यु व विवाह पंजीकरण प्रमाणपत्र ऑनलाइन मिलेंगे और भवनों के नक्शों को पास करवाने के लिए नगर निगम कार्यालय के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। लोगों को यह सुविधा ऑनलाइन मिलेगी। इससे समय के साथ-साथ आर्थिक बचत भी होगी।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close