India

बहन सड़क पर चीख-चीख कर लोगों से बोली कि मेरा बेटा तो चला गया है, भाई को बचा लो

इंदौर: राखी मना लौट रहे थे, ट्रक ने कुचला 5 साल का बेटा, ‘भाई की सांसें चल रहीं उसे तो बचा लूं’ कहकर जुट गई जान बचाने :  लसूड़िया टीआई संतोष दूधी ने बताया कि दिनेश पिता मोहन निवासी हाटपीपल्या रक्षाबंधन के बाद बहन सुनीता बागड़िया और भांजे आयुष को बाइक से इंदौर के रेशम केंद्र स्थित उसके ससुराल छोड़ने जा रहा था। रुचि सोया फैक्टरी के पास उसकी बाइक पानी गिरने से स्लीप हो गई। तभी फैक्टरी से निकले ट्रक ने उसे चपेट में ले लिया। इससे सुनीता उछलकर सड़क किनारे गिरी और उसकी गोद में बैठा आयुष ट्रक के पिछले टायर में आ गया।

Also Read : फटा बादल फटने से पूरा परिवार मलबे में दफन, अकेली रह गई नन्हीं जान

दिनेश भी ट्रक से टकरा गया, जिससे उसे गंभीर चोट आई।

इकलौते बेटे को अपनी आंखों के सामने खो देने के बाद भी सुनीता ने हिम्मत नहीं हारी और लोगों को शोर मचा कर भाई की जान बचाने के लिए मदद मांगती रही। मौके पर पहुंचे लसूड़िया थाने के कांस्टेबल धर्मेंद्र ने बताया कि महिला युवक के पास ही खड़ी थी। पहले तो लगा कि युवक की भी मौत हो चुकी है, लेकिन उसकी सांसें चल रही थीं।

महिला ने बोला कि मेरे बेटे की मौत हो गई है, लेकिन मेरे भाई को अस्पताल पहुंचा दो। इसके बाद युवक और महिला को लोगों ने अस्पताल भेजा। आयुष के शव को फावड़े से बोरी में भरकर अस्पताल ले गए। पुलिस ने ट्रक चालक को पकड़ लिया है। दिनेश को गंभीर हालत में सर्जिकल आईसीयू में रखा है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close